डीएम ने सीएचसी सरधना  एवं मौहल्ला मंडी चामरान का मौके पर पहुंचकर लिया जायजा संबंधित अधिकारी को दिये निर्देश

सरकारी एवं निजी अस्पतालो में भर्ती मरीजो की सूची तत्काल करायी जाये उपलब्ध-दीपक मीणा
किसी भी प्रकार की जनहानि को रोकना हमारी सर्वप्रथम प्राथमिकता
मौहल्ला मंडी चामरान में 24 घंटे लगायी जाये स्वास्थ्यकर्मियो की टीम, करें निगरानी, सीएमओ को दिये निर्देश

मेरठ।सरधना के मौहल्ला मंडी चामरान में लोगो के बीमार होने के दृष्टिगत आज जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा मौके पर पहुंच कर सरधना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं संबंधित मौहल्ला मंडी चामरान का निरीक्षण कर जायजा लिया गया। जिलाधिकारी द्वारा सरधना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में मरीजो को दिये जा रहे उपचार के संबंध में बीमार मरीजो के परिजनों से वार्ता कर मौके पर उपस्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि स्वास्थ्य केन्द्र में उपस्थित मरीजों का बेहतर एवं गुणवत्तापरक उपचार सुनिश्चित किया जाये तथा लगातार स्वास्थ्य टीमो पर निगरानी रखते हुये समग्र कार्यवाही सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर अस्पताल के डाक्टर टीम द्वारा बताया गया कि फिलहाल कोई भी मरीज गंभीर अवस्था में नहीं है, शत-प्रतिशत रिकवर किये जाने हेतु उपचार की समुचित व्यवस्थाएं की गयी है। इसके उपरांत जिलाधिकारी ने संबंधित मौहल्ले मंडी चामरान का मौके पर पहुंच कर जायजा लिया तथा मौहल्ले के स्थानीय नागरिको से वार्ता कर जलापूर्ति, मरीजों की स्थिति तथा प्रशासन की तरफ से दी जा रही सुविधाओ के बारे में ग्राउंड रिपोर्ट लेते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी प्रकार की जनहानि को रोकना हमारी सर्वप्रथम प्राथमिकता है। सीएमओ को निर्देशित किया गया कि संबंधित मौहल्ले में स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिगत स्वास्थ्यकर्मियो की एक टीम स्थायी रूप से लगायी जाये।
जिलाधिकारी ने एसडीएम सरधना को निर्देशित किया कि अभी तक जो भी मरीज भिन्न-भिन्न अस्पतालो सरकारी या प्राईवेट में भर्ती किये गये है समस्त मरीजो की अस्पतालवार सूची तैयार कर तत्काल उपलब्ध करायी जाये जिससे संबंधित अस्पताल से वार्ता कर मरीज को बेहतर उपचार सुनिश्चित किया जा सके। मौके पर उपस्थित मरीजो के परिजन एवं अन्य मौहल्ला निवासी से जिलाधिकारी ने कहा कि इस प्रकरण से संबंधित कोई भी परिजन किसी भी समय जिलाधिकारी के नंबर पर वार्ता कर अपनी समस्या से अवगत करा सकते है। प्रशासन की तरफ से हर संभव सहायता मुहैया करायी जायेगीं।


उन्होंने कहा कि पाइप लाइन द्वारा की जा रही जलापूर्ति को फिलहाल रोक दिया गया है तथा संबंधित विभागीय टीम को जांच एवं अन्य कार्यवाही हेतु लगा दिया गया है। वाटर कंटैमिनेशन की संभावना के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने संबंधित टीम को निर्देशित किया है कि पाईप लाईन की पूर्णतया: जांच कर नई पाईप लाईन लगाये जाने के निर्देश दिये गये है। मोहल्ले में वैकल्पिक जलापूर्ति व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित किये जाने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया तथा उनके द्वारा जलापूर्ति सुनिश्चित की जा रही है साथ ही संबंधित क्षेत्र के समस्त निवासियों से जिलाधिकारी ने अपील करते हुये अनुरोध किया है कि पानी को उबाल कर ही पीये।
इस अवसर पर सीएमओ डॉ. अखिलेश मोहन, एसडीएम सरधना, तहसीलदार सरधना, जल निगम के संबंधित अधिकारी, सरधना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सक व स्टाफ आदि उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment

Popular Posts