हरिद्वार 16 नवंबर। वरिष्ठ पत्रकार कमलकांत बुधकर के निधन पर शोक जताने के लिए पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत आज हरिद्वार पहुंचे। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्रकार एवं साहित्यकार बुधकर जी के शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि बुधकर जी के निधन से हरिद्वार ही नहीं अपितु संपूर्ण उत्तराखंड को अपूर्णीय क्षति हुई है। इस दौरान परिवार के लोगों से उन्होंने बात की और अपनी श्रद्धांजलि और पुष्पांजलि अर्पित की। मीडिया से बातचीत करते हुए कहा उनका इस तरह जाना हरिद्वार ही नहीं बल्कि संपूर्ण उत्तराखंड की क्षति है। उन्होंने हरिद्वार की विश्व में पहचान बनाने के लिए जो कार्य किए हैं उन्हें हमेशा याद रखा जाएगा। इस ऐतिहासिक कार्य में उनके अभूतपूर्व योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उनकी किताबें हमेशा जीवंत रहेगी। उनके पढ़ाए हुए छात्र आज बड़े-बड़े पदों पर कार्य कर रहे हैं। उन्होंने हरिद्वार में प्रेस क्लब की स्थापना कर हरिद्वार में पत्रकारों को एकजुट रखने का कार्य किया। गुरुकुल में शिक्षण कार्य करते हुए पत्रकारों को एक नई दिशा दी। आज उनके द्वारा पत्रकारिता पढ़ाए गए छात्र भी बड़े मीडिया हाउस में कार्य कर रहे हैं। पूर्व सीएम ने स्व. कमलकांत बुधकर की पत्नी संगीता बुधकर एवं दोनों पुत्रों को ढांढस बंधाते हुए दुख की इस घड़ी में हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर उनके साथ भाजपा जिला महामंत्री विकास तिवारी, पूर्व जिला अध्यक्ष ठाकुर सुशील चौहान, तरुण नैयर, दिनेश पांडे, विकल राठी, इष्ट देव सोनी, महेश गौड़, संजय शर्मा आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे। इसके बाद त्रिवेंद्र सिंह रावत हरिहर आश्रम पहुंचे और जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी से आशीर्वाद लिया।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts